किसी समस्या से डरे नहीं, बल्कि उसका समाधान खोजें

Hindi Story, हमारी ज़िन्दगी में कई ऐसे मौके आते है, जब हम उस समस्या से डर कर हम पीछें हट जाते हैं। हमे उन समस्या से डरना नहीं, बल्कि उसका समाधान खोजना चाहिए।

Don’t afraid of problems find their solutions – किसी समस्या से डरे नहीं, बल्कि उसका समाधान खोजें

hindi-motivational-story-find-solutions

Hindi Kahani, एक घर के पास काफी दिन से एक बड़ी इमारत का काम चल रहा था। प्रतिदिन वहां मजदूरों के छोटे-छोटे बच्चे एक दूसरे की शर्ट पकड़कर रेल-रेल का खेल खेलते थे। रोज कोई बच्चा इंजन बनता और बाकी बच्चे डिब्बे बनते।

इन सब में एक बात अलग ये थी कि इंजन और डिब्बे वाले बच्चे रोज बदल जाते, लेकिन सिर्फ एक चड्डी पहने रहने वाला एक छोटा बच्चा हाथ में कपड़ा घुमाते हुए रोज गार्ड ही बनता।

वह बच्चा कई दिन तक ऐसा ही करता रहा, एक सज्जन पुरुष रोज उन बच्चों को खेलते हुए देखते थे। एक दिन उन्होंने कौतुहल के कारण हमेशा गार्ड बनने वाले बच्चे को पास बुलाकर पूछा कि वह प्रतिदिन गार्ड ही क्यों बनता है? क्या उससे कभी इंजन या डिब्बा बनने की इच्छा नहीं होती?

समस्यों का समाधान निकालें:

उनकी बात सुनकर वह बच्चा बोला कि महोदय, मेरे पास पहनने के लिए कोई शर्ट नहीं है, जिसके चलते उसके पीछे वाले उसके कैसे पकड़ेंगे और उसके पीछे कोई खड़ा कैसे होगा। इसीलिए मैं रोज गार्ड बनकर ही खेल में हिस्सा लेता हूं।

हालांकि ये बोलते समय उस बच्चे की आंखों में पानी आ गया लेकिन वह छोटा सा बच्चा उस सज्जन को एक बहुत बड़ा पाठ पढ़ा गया कि किसी का भी जीवन कभी भी परिपूर्ण नहीं होता, उसमें कोई न कोई कमी जरूर रहती है।

वह गरीब बच्चा अपने मां-बाप से गुस्सा होकर रोते हुए बैठ सकता था, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया और उसने परिस्थितियों का समाधान ढूंढा।

इस कहानी से सीखः हम कितना भी रोते हैं, अपने सांवले रंग, छोटे कद, अपने कम नंबर, कभी अंग्रेज़ी, कभी नौकरी आदि लेकिन हमें उससे बाहर आना पड़ता है। ऐसा इसलिए होता हैं की हम उनकी पूर्ति चाह कर भी नहीं कर सकते तो भी खुश होते है, हमे ये जीवन ऐसे ही जीना पड़ता है।

कृपया कमेन्ट के माध्यम से बताएँ कि आपको यह लेख कैसा लगा?

यदि आपके पास Hindi में कोई Spiritual article, inspirational/motivational story या जानकारी है, जो आप उसे हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें। हमारी Email Id है:- info@atmaparichay.com. आपके लेख पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे। Thanks.!

आप अपनी टिपण्णी/ राय/ जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here